Bihar Weather Update : बिहार में बदला मौसम का मिजाज, आंधी-पानी में दो लोगों की मौत, येलो अलर्ट जारी

Share It

PATNA : पिछले कुछ दिनों से तप रही बिहार (Bihar) को धरती को थोड़ा आराम मिला है. सूबे में मौसम ने करवट ली है. मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण, सीतामढ़ी और दरभंगा में आंधी, पानी और ओलावृष्टि से लोगों को गर्मी से राहत मिली है. हालांकि इसमें दो लोगों की जान भी चली गई. Bihar Weather Update

मौसम बदलने के कारण बिहार के लोगों को चिलचिलाती धूप और गर्मी से राहत मिली है. कल मुजफ्फरपुर जिले के कुढ़नी और साहेबगंज समेत कई प्रखंडों में बारिश के साथ ओले गिरे. कुढ़नी ताड़ के पेड़ पर वज्रपात से आग लग गई. आसपास के घरों में लगे बिजली के उपकरण जल गये. कई इलाकों में बिजली भी बाधित रही.

इधर, मौसम विभाग ने मंगलवार को किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार, सुपौल, अररिया, सीतामढ़ी, मधुबनी, भागलपुर, पूर्वी चंपारण और पश्चिमी चंपारण जिलों में गरज के साथ छींटे पड़ने का अलर्ट जारी किया है. पटना मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा कि राज्य के दक्षिण-पश्चिमी हिस्सों को छोड़कर अगले तीन दिनों में अधिकतम तापमान में दो से चार डिग्री की गिरावट आने की संभावना है.

राजधानी का तापमान मंगलवार को 37.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जबकि सोमवार को अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री सेल्सियस था. 41.7 डिग्री सेल्सियस के साथ औरंगाबाद प्रदेश का सबसे गर्म स्थान रहा. प्रदेश के दक्षिण-पश्चिम एवं दक्षिण-मध्य के अधिसंख्य हिस्सों में लू का कहर जारी रहा. पटना मौसम विज्ञान केंद्र की एक अधिकारी कामिनी कुमारी ने कहा कि ‘नम पूर्वी और उत्तर-पश्चिमी हवाएं निचले स्तर के वातावरण में 6-8 किमी प्रति घंटे की औसत गति से चल रही हैं.

मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार चक्रवाती परिसंचरण का क्षेत्र पूर्वी उत्तरप्रदेश व झारखंड के आसपास के इलाकों में बना है. इन मौसमी प्रभाव के कारण प्रदेश में 24 घंटों के दौरान सुपौल, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया और कटिहार में मेघ गर्जन व हल्की बारिश के आसार हैं. प्रदेश के शेष हिस्सों में लू की स्थिति बनी रहेगी. इन मौसमी प्रभाव के कारण मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से येलो अलर्ट जारी किया गया है.