Patna : जल्द पूरा होगा गाँधी सेतु के समांतर बन रहा पुल

Share It

Patna के गंगा नदी पर बने 7.5 किलोमीटर लंबे गांधी सेतु (Gandhi Setu) पर बन रहे सुपर स्ट्रक्चर के पूर्वी लेन को लेकर कार्य काफी समय से चल रहा है, जिसे मई 2022 तक पूरा कर लेने का लक्ष्य रखा गया है। पूर्वी लेन का तक़रीबन 94% निर्माण कार्य में आयरन का काम पूरा हो चुका है। निरिक्षण करने आये बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन (Nitin Navin) ने इसके कार्यों की गति को देख कर कहा की इससे अगले साल मई के बजाए अगले साल के मार्च तक पूरा किया जाये। निरिक्षण में आये हाजीपुर विधायक अवधेश सिंह ने पुल के दोनों साइड पैदल और साइकिल आदि के लिए अलग से लेन बनाने की जरूरत जताई। इस बात पर मंत्री ने इंजीनियरस से बातचीत कर जरुरी निर्देश दिए हैं।

उत्तर बिहार और दक्षिण बिहार को जोड़ने वाली गांधी सेतु राज्य की लाइफलाइन मानी जाती है। नितिन नवीन ने अधिकारियों और इंजीनियरों को शख्त हिदायत देते हुए निर्माण कार्यों के गुणवत्ता में किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किये जाने की बात कही है। साथ ही नितिन नवीन ने गाँधी सेतु के समांतर बन रहे पुल का भी निरिक्षण किया। समानांतर बन रहा पुल 2024 के सितंबर तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। और इस पुल के भी निर्माण कार्य की तेजी को देख कर सितंबर 2024 के बदले मार्च 2024 में ही पूरा करने का निर्देश दिया है। NHAI के पदाधिकारियों और इंजीनियरों ने इस बात पर अपनी सहमति जताई है।

15 जुलाई को बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन और विधायक अवधेश सिंह गांधी सेतु के कार्यों की प्रगति को लेकर निरीक्षण किया। इस दौरान विभाग के प्रधान सचिव, एनएचएआइ के अधिकारी, निर्माण कंपनी के अधिकारी और कई अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।