Bihar : Remedisivir Injection में हो रहे कालाबाजारी पर चढ़ी नकेल, उचित दाम में यहां मिलेगा Remedisivir

Share It

कोरोना महामारी के बीच बिहार सरकार हर दिन प्रदेश में चल रहे कालाबाजारी पर रोक लगाने के लिए बड़े फैसले ले रही है। पिछले दिनों सरकार ने जहां सरकारी और निजी एंबुलेंसओं का दर निर्धारित किया था, तो वही आज सरकार ने रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) के लिए नया निर्देश जारी किया है। अब मरीज और उनके परिजन रेमडेसिवीर इंजेक्शन के लिए दर दर नहीं भटकेंगे और ना ही उन्हें हजारों हजार रुपए कालाबाजारी में देने पड़ेंगे। क्योंकि मरीज और उनके परिजन अब सिविल सर्जन और ड्रग्स कंट्रोलर के माध्यम से इंजेक्शन प्राप्त कर सकते हैं। सरकार ने इस संबंध में विस्तृत निर्देश जारी किया है। राज्य में रेमडेसिवीर इंजेक्शन की अधिकतम कीमत 2800 रूपये तक तय की गई है।

सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आदेश के मुताबिक कोरोना मरीजों के इलाज के लिए रेमडेसिवीर इंजेक्शन सिविल सर्जन और सहायक औषधि नियंत्रक से लिया जा सकता है। सरकार ने इसके लिए अब इंजेक्शन की दर को निर्धारित कर दिया है। सरकार द्वारा दिए गए निर्देश में कहा गया है कि दवा की तय कीमत से अधिक लेने पर कार्रवाई की जाएगी।

बिहार में रेमडेसिवीर इंजेक्शन की सबसे अधिक कीमत 2800 रूपये तय की गई है। सरकार की ओर से जारी कीमतों में बताया गया है कि 100mg कोविफोर रेमडेसिवीर का दाम 2800 से अधिक नहीं लिया जा सकता है। वही रेमडेसिवीर 100mg/20ml vial की कीमत 1268 रुपये तय की गई है। आपको बता दें रेमडेसिवीर इंजेक्शन की अलग-अलग श्रेणीयों की कीमतों को भी तय किया गया है।

साथ ही राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने ट्वीट कर बताया है कि 15 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन के डोज का चौथा खेप जिलों में भेजा गया है, केन्द्र से रेमडेसिविर इंजेक्शन का कोटा 16 मई तक बढ़ाकर 1 लाख 50 हजार कर दिया गया है। और उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा बिहार को लगातार चिकित्सीय सामग्री, दवा एवं ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है। पिछले दिनों बिहार को केन्द्र सरकार से 150 ऑक्सीजन कांसेंट्रेटर (5 LPM), 3 लाख 90 हजार एंटीजन किट, 90 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर, 212 बाइपैप मशीन और एसिसरिज दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.