Ollie Robinson : 8 साल पहले के ट्वीट्स के कारण सस्पेंड हो गया ये बेहतरीन खिलाड़ी

Share It

अपने डेब्यू टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन करने वाले ओली रोबिन्सन (Ollie Robinson) को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सस्पेंड कर दिया गया है। इस बात की जानकारी इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर दी। ईसीबी ने अनुशासनात्मक जांच के परिणाम आने तक ओली को इंटरनेशनल क्रिकेट से सस्पेंड कर दिया गया है।
ओली रोबिन्सन के 2012 और 2013 के कुछ अश्लील और नस्लीय ट्वीट्स और टिप्पणी के लिए यह बड़ी कार्रवाई की गई है। हालांकि ट्वीट्स के वायरल होने के बाद ओली ने माफी भी मांग ली थी।

लॉर्ड्स टेस्ट में किया था डेब्यू

रॉबिन्सन ने लॉर्ड्स में खेले जा रहे सीरीज के पहले मैच में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था। उन्होंने 6 जून को कीवी टीम के खिलाफ ड्रा हुए मैच में गेंद से यादगार प्रदर्शन करते हुए सात विकेट झटके और इंग्लैंड की पहली पारी में 42 रन भी बनाए।

पुराने ट्वीट्स बने सस्पेंड होने की वजह

रॉबिन्सन ने 2012 और 2014 के दौरान कई ट्वीट किए थे। वो सभी ट्वीट्स नस्लवाद और लिंगभेद से जुड़े भद्दे ट्वीट्स थे। उन्होंने जब ये ट्वीट्स किये थे तब वो 18 और 19 साल के थे। मैच के पहले दिन इन ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा होती रही, जिसके बाद रॉबिन्सन ने माफी मांगी थी। हालांकि ईसीबी (ECB) ने उन्हें तत्काल सस्पेंड कर दिया है। ईसीबी ने ससेक्स के इस गेंदबाज के बारे में कहा की रॉबिन्सन तुंरत ही इंग्लैंड की टीम को छोड़कर अपनी काउंटी में वापसी करेंगे।

वहीं इंग्लैंड के बल्लेबाजी कोच ग्राहम थोर्प (Graham Thorp) का कहना है कि ओली रॉबिन्सन के लिंगभेद और नस्लवाद से जुड़ी पुरानी पोस्ट के चर्चा में आने के बाद क्रिकेट बोर्ड ने कार्रवाई की। बोर्ड खिलाड़ियों को चुनने से पहले सोशल मीडिया के उनके इतिहास की समीक्षा कर सकता है।

रॉबिन्सन ने मांगी माफी, कहा किशोर उम्र में किये थे ये ट्वीट्स

अपने पुराने ट्वीट्स वायरल होने के बाद रोबिन्सन ने माफी मांगते हुए कहा कि वो अपने अश्लील और नस्लीय कमेंट के लिए, जो जो उन्होंने ट्विटर पर आज से 8 साल पहले शेयर किया था और वह आज सबके सामने आ रहा है उसके लिए शर्मिंदा हैं। उन्होंने आगे कहा कि वो इस तरह की हरकत के लिए माफी मांगते हैं और इस तरह की टिप्पणियां करने के लिए बेहद शर्मिंदा हैं। उन्होंने यह भी बताया कि उन्होंने ये ट्वीट तब किए थे जब वह अपनी जिंदगी के बुरे दौर से गुजर रहे थे, क्योंकि इंग्लिश काउंटी यार्कशर ने उन्हें किशोरावस्था में बाहर कर दिया था।

न्यूज़ीलैण्ड (New Zealand) के खिलाफ अगले टेस्ट में नहीं होंगे टीम का हिस्सा

रोबिन्सन अब इंग्लैंड के खिलाफ 10 जून से शुरू हो रहे टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच में चयन के लिए उपलब्ध नहीं होंगे। दोनों टीमों के बीच यह सीरीज ड्रा होने की वजह से फिलहाल बराबरी पर है, ऐसे में जो भी दूसरे मैच में जीत दर्ज करेगा, वह मैच के साथ टेस्ट सीरीज भी अपने नाम कर लेगा।


बता दें, यह सीरीज वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (WTC) का हिस्सा नहीं है। WTC का फाइनल मुकाबला न्यूजीलैंड और भारत के बीच 18 जून से खेला जाना है। इस मैच के लिए टीम इंडिया (Team India) साउथैम्प्टन (Southampton) के एजेस बाउल (Rose Bowl) में पहले ही पहुंच चुकी है और फिलहाल क्वारंटाइन में है।