लॉन में वैक्सीन लगवा कर फंसे Kuldeep Yadav, लोगों ने पूछा इन्हें ये स्पेशल ट्रीटमेंट क्यों ?

Share It

Trending Bihar, Sports Desk

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) कोरोना से बचाव के लिए टीका लगवा कर मुसीबत में फंस गए हैं। उत्तरप्रदेश के रहने वाले इस खिलाड़ी ने बीते शनिवार, 15 मई को टीका (Vaccine) लगवाया था। वैक्सीनेशन की पहली डोज लेने के बाद उन्होंने अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर के सभी से टीका लगवाने की अपील की थी।

शेयर की गई तस्वीर में बाएं हाथ के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप (Kuldeep Yadav) अस्पताल के बजाय एक लॉन में टीका लगवाते हुए दिख रहे हैं। जिसके बाद नेटीज़न्स ने उन्हें टारगेट करना शुरू कर दिया। कईयों ने कहा कि यहां टिकाकरण के लिए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को स्पेशल ट्रीटमेंट नहीं मिल रही फिर तुम्हें क्यों। नेटीज़न्स कि प्रतिक्रिया पर कुलदीप ने कमेंट कर यह भी कहा कि जहाँ वो टीका लगवा रहे हैं वो टिकाकरण केंद्र ही है।

हालांकि कुलदीप तस्वीर में एक लॉन में टीका लगवाते नजर आ रहे हैं जो कि टीकाकरण संबंधी प्रोटोकॉल का उल्लंघन माना जा रहा है। रिपोर्ट्स की मानें तो कानपुर के जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने मामले में संज्ञान लेते हुए अपर जिलाधिकारी अतुल कुमार को जांच के आदेश दिए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कुलदीप (Kuldeep Yadav) को गोविंद नगर स्थित जागेश्वर अस्पताल में टीका लगाया जाना था लेकिन उन्हें कानपुर नगर निगम के गेस्ट हाउस के लॉन में कोरोना से बचाव के लिए पहला टीका लगाया गया। सोशल मीडिया पर लगातार लोग कुलदीप को टारगेट कर रहे हैं और यह सवाल भी उठा रहे हैं कि आखिर उनके (कुलदीप) लिए कोरोना प्रोटोकॉल क्यों तोड़ा गया।

बता दें, कुलदीप का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में प्रदर्शन भी अभी औषत चल रहा है। जिस वजह से उन्हें आने वाले इंग्लैंड (England) दौरे और श्रीलंका (Srilanka) दौरे के लिए टीम में जगह नहीं मिली है। कुलदीप ने अपने प्रदर्शन के बारे में कहा था कि उन्हें कम मौके मिल रहे हैं और विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धोनी का ना होने के कारण उनके प्रदर्शन पर प्रभाव पड़ रहा है।