Kolkata की जीत से हुआ Point Table में उलटफेर, क्या अब भी प्लेऑफ में पहुंच सकती है KKR? देखिए रिपोर्ट

Share It

DESK: इंडियन प्रीमियर लीग सीजन 15 (IPL 2022 Season 15) के 56 मुकाबले खेले जा चुके हैं. 56वें मुकाबले में कोलकाता नाईट राइडर्स (KKR) ने मुंबई इंडियंस (MI) को 52 रनों से करारी शिकस्त दे कर प्लेऑफ की जंग और दिलचस्प कर दी है. इस जीत के साथ कोलकाता ने अपने प्लेऑफ में पहुँचने की उम्मीद को जिन्दा रखा है.

कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने इस अहम मैच में पांच बदलाव किए थे. बल्लेबाजी में भी इसका असर दिखा. टीम को जबरदस्त ओपनिंग मिली, वेंकटेश अय्यर ने सिर्फ 24 बॉल में 43 रनों की पारी खेली. हालांकि, टीम में वापसी कर रहे अजिंक्य रहाणे इस मैच में भी कमाल नहीं कर पाए और 24 बॉल में 25 ही रन बना पाए.

कोलकाता के लिए असली धमाल नीतीश राणा (Nitish Rana) ने मचाया, जिन्होंने 4 छक्कों के साथ 43 रनों की पारी खेली. नीतीश राणा के अलावा मिडिल ऑर्डर में कोई बल्लेबाज कमाल नहीं कर पाया. क्योंकि मुंबई इंडियंस के जसप्रीत बुमराह ने इसके बाद कहर ढाया और सिर्फ 9 बॉल में 5 विकेट झटक लिए.

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए यह मैच करो या मरो वाला था. अगर यहां हार मिलती तो उसका बोरिया-बिस्तर बंधना तय था, लेकिन इस जीत ने कोलकाता के प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद को बरकरार रखा है.

इस जीत के साथ कोलकाता के 12 मैच में 5 जीत हो गई हैं, ऐसे में उसके 10 प्वाइंट हैं. टीम के 2 मैच बचे हैं, अगर दोनों में जीत मिलती है तो 14 प्वाइंट होंगे. ऐसे में टीम NRR के आधार पर दूसरी टीमों के लिए चुनौती पेश कर सकती है. कोलकाता अब प्वाइंट टेबल में 7वें नंबर पर पहुंच गई है.

वहीं पॉइंट टेबल में 11 मुकाबलों में 8-8 जीत कर 16-16 अंकों के साथ लखनऊ सुपर जायंट्स और गुजरात टाइटंस पहले और दूसरे स्थान पर काबिज है. वहीं 14-14 पॉइंट्स के साथ राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर तीसरे और चौथे स्थान पर काबिज है.

बात करें कोलकाता के प्लेऑफ में पहुँचने की तो ऐसा तभी हो सकता है जब…

  • KKR अपने बाकी बचे दोनों मुकाबले भी अच्छे रन रेट के साथ जीते. KKR को सनराइजर्स हैदराबाद और लखनऊ सुपर जायंट्स के साथ मैच खेलना है. इन दोनों टीमों के खिलाफ KKR को बड़ी जीत की जरूरत होगी. ऐसा होता है तो KKR की 14 मैचों में कुल 7 जीत हो जाएंगी. नेट रन रेट अगर अन्य 7 मैच जीतने वाली टीमों से बेहतर रहा तो KKR प्लेऑफ में पहुंच सकती है.
  • RCB पंजाब किंग्स और गुजरात टाइटंस से अपने मुकाबले हार जाए. ऐसे में RCB के खाते में 14 मैचों में 7 जीत होगी.
  • सनराइजर्स KKR और मुंबई से भी वह हार जाए और पंजाब किंग्स से जीत जाए. ऐसे में सनराइजर्स के खाते में 14 मैचों में केवल 6 जीत रह जाएंगी. अगर वह यहां मुंबई से भी जीत जाए तो भी उसकी 7 ही जीत हो पाएंगी.
  • दिल्ली कैपिटल्स अपना अगला मुकाबला पंजाब किंग्स से जीते और राजस्थान रॉयल्स व मुंबई से हार जाए. ऐसे में दिल्ली के खाते में भी केवल 6 जीत रह जाएंगी.
  • पंजाब किंग्स RCB से जीते, दिल्ली और सनराइजर्स से हार जाए. ऐसे में पंजाब के खाते में केवल 6 जीत रह जाएंगी. अगर वह दिल्ली और सनराइजर्स में से किसी एक से जीत भी जाए तो भी उसकी 7 ही जीत हो पाएंगी. हां ऐसे में सनराइजर्स और दिल्ली की 6-6 जीत ही रह जाएंगी. तब भी KKR को पहुंचने का मौका होगा.
  • चेन्नई सुपर किंग्स अपना अगला मुकाबला मुंबई से हार जाए व बाकी बचे दोनों मुकाबले जीते या हारे. ऐसे में चेन्नई के खाते में ज्यादा से ज्यादा 6 जीत दर्ज हो पाएंगी और वह प्लेऑफ से बाहर हो जाएगी.

अगर ऊपर लिखे समीकरण बनते हैं तो KKR की टीम लखनऊ, गुजरात और राजस्थान के साथ प्लेऑफ में पहुंच सकती है.