असम और मिजोरम के सीमा विवाद में Amit Shah के एंट्री का दिखा असर

Share It

असम और मिजोरम के बीच सालों से जारी सीमा विवाद ने 26 जुलाई को हिंसक रूप ले लिया था। जिसमें असम पुलिस के 6 जवानों की मौत हो गई थी। दोनों राज्यों के बीच मामले को बढ़ता देख केंद्रीय गृह मंत्रालय को दखल देना पड़ा। अमित शाह (Amit Shah) ने दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की और स्थिति को जल्द से जल्द सामन्य करने की अपील की थी। जिसका असर अब देखने को मिलने लगा है।

असम के मुख्यमंत्री ने पुलिस को मिजोरम के सांसद के. वनलालवेना (K Vanlalvena) के खिलाफ दर्ज FIR वापस लेने का निर्देश दिया है। CM Himanta Biswa Sarma ने खुद 2 अगस्त को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। CM ने कहा कि उन्होंने प्रदेश के पुलिस को निर्देश दिया है कि 26 जुलाई को मिजोरम के साथ सीमा संघर्ष के बाद राज्यसभा सांसद K Vanlalvena के खिलाफ FIR वापस ले ली जाये। और अन्य पुलिस अधिकारियों के खिलाफ मामले को आगे बढ़ाया जाएगा।

सीमा पर खूनी संघर्ष के बाद से तनावपूर्ण माहौल के बीच मिजोरम के मुख्यमंत्री Zoramthanga ने कहा था कि दोनों राज्य अब बातचीत के जरिए विवाद को सुलझाएंगे। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के एंट्री से दोनों राज्यों के बीच चल रहे सीमा विवाद सुलझने की उम्मीद जताई जा रही है।