Rjd से बढ़ रही Chirag Paswan की नजदीकियां, मुलाकात के बाद सियासत तेज, बोचहां उपचुनाव को लेकर हुई बातचीत!

Share It

PATNA : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद बिहार के राजनीति में तेजी से बदलाव देखने को मिल रही है. चुनाव के परिणाम आने के बाद जहां एक दल के तीनों विधायकों ने बीजेपी का दामन थाम लिया. तो वहीं वीआईपी प्रमुख और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी को अपने मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा. इसके बाद पूर्व केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान के नई दिल्ली स्थित आवास को खाली करा दिया गया. जिसके बाद चिराग पासवान (Chirag Paswan) बिहार पहुंचे और इस पूरे प्रकरण को सीएम नीतीश कुमार की साजिश करार दिया. तो वहीं राजद (rjd) ने चिराग पासवान को अपने पाले में करने के लिए दोस्ती का हाथ बढ़ाया है.

जिसके बाद चिराग पासवान को लेकर लागातर राजनीति जारी है. बयानबाजी का दौर शुरु हो गया. इसी बीच एमएलसी चुनाव से ठीक पहले वैशाली में चिराग पासवान का एक आडियो वायरल हो गया. जिसमें वे तेजस्वी यादव की तारीफ कर रहे हैं. बाद में तेजस्वी की ओर से भी चिराग को धन्यवाद दिया जाता है. इन सबके बीच राजद (RJD) के एक वरीय नेता चिराग पासवान से मुलाकात करने पहुंचते हैं. यहीं से मुजफ्फरपुर और खासकर बोचहां विधानसभा क्षेत्र में इस बात की चर्चा तेज हो गई है कि क्या तेजस्वी यादव के साथ मिलकर चिराग पासवान कोई खिचड़ी पका रहे हैं.

रामविलास पासवान के बंगले को खाली करवाने के मुद्​दे को लेकर विपक्षी पार्टियां अब इसका फायदा लेने की तैयारी कर रही है. विशेषकर राजद इस मौके को हर हाल में भुनाना चाहती है इसीलिए पार्टी के नेता श्याम रजक ने चिराग पासवान से मुलाकात की. जबकि इसी मुद्दे को लेकर तेजस्वी भाजपा को घेरने की कोशिश में जुटे हुए है. इसके बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चा तेज है कि एमएलसी चुनाव की तरह ही चिराग बोचहां उपचुनाव से ठीक पहले क्या राजद के प्रत्याशी के लिए कोई विशेष प्रयास करेंगे. हालांकि मुजफ्फरपुर से भाजपा सांसद अजय निषाद ने भी नामांकन से पहले उनसे मुलाकात की थी, लेकिन उसके बाद बंगला खाली कराने को लेकर विवाद शुरू हो गया है. जिससे राजनीति के संदर्भ बदले बदले नजर आ रहे हैं.

वहीं जब चिराग पासवान से पत्रकारों ने इस मामले पर बातचीत की तो उन्होंने इस तरह की किसी भी संभावना को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि श्याम रजक और मेरे पिताजी के घरेलू संबंध रहे हैं. इसलिए वे मिलने आए थे. कहा, हर मुलाकात में कोई राजनीतिक बात हो यह जरूरी तो नहीं. बोचहां विधानसभा उपचुनाव को लेकर श्याम रजक या तेजस्वी से मेरी कोई बात नहीं हुई है. समय आने पर इसको लेकर फैसला लिया जाएगा. अभी कुछ भी तय नहीं है, भविष्य की बात भविष्य में ही की जाएगी. वहीं वर्तमान में चिराग पासवान बीजेपी नेताओं से नाराज चल रहे हैं.