Congress विधायक पर बड़ी कार्रवाई, स्पीकर ने खत्म की विधायकी, जानिए क्या है पूरा मामला

Share It

RANCHI : कांग्रेस (Congress) विधायक बंधु तिर्की (Bandhu Tirkey) की विधायकी समाप्त कर दी गई है. आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में कांग्रेस विधायक के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई है. ये सूबे के छठे विधायक हैं, जिनकी विधायकी (Member of Legislative Assembly) की सदस्यता समाप्त की गई है.

झारखंड विधानसभा (Jharkhand Legislative Assembly) के अध्यक्ष (Speaker) रबींद्र नाथ महतो ने सीबीआई कोर्ट के फैसले के आलोक में मांडर विधायक बंधु तिर्की की विधायकी खत्म कर दी है. स्पीकर ने इस संबंध में गुरुवार को आदेश जारी कर दिया है. आदेश के मुताबिक विधायक बंधु तिर्की की विधायकी 28 मार्च की तिथि से ही समाप्त हो गई है.

आपको बता दें कि बंधु तिर्की की विधायकी समाप्त होने के साथ ही मांडर विधानसभा की सीट भी 28 मार्च की तिथि से खाली हो गई. बंधु तिर्की पर आय से 6 लाख 28 हजार 698 रुपये अधिक सम्पत्ति अर्जित करने का आरोप है. इसी मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने 28 मार्च को उन्हें तीन साल की सजा सुनायी थी.

इस मामले में सीबीआई टीम ने उन्हें बनहोरा स्थित आवास से दिसंबर 2018 में गिरफ्तार किया था. वह लगभग 40 दिन जेल में रहे. बाद में उन्हें हाई कोर्ट से जमानत मिली. सीबीआई ने बंधु तिर्की के खिलाफ 11 अगस्त 2010 को आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

34 वें राष्ट्रीय खेल घोटाला के आरोपी बंधु तिर्की के मामले में एसीबी के विशेष न्यायाधीश प्रकाश झा की अदालत में सुनवाई 21 अप्रैल को होगी. इस मामले में बंधु की ओर से उनके अधिवक्ता ने कुछ दिन पहले डिस्चार्ज याचिका दाखिल की थी. भाजपा विधायक समरी लाल के जाति प्रमाण पत्र के बाद उभरे विवाद के बाद कल्याण विभाग की समिति ने इसकी जांच की. समिति ने अनुसूचित जाति के प्रमाण पत्र को रद्द कर दिया था.