CBI Raid के दौरान मसाज कराते दिखे तेजप्रताप यादव, तेजी से वायरल हो रहा वीडियो

Share It

PATNA : आज सुबह बिहार (Bihar) की पूर्व मुख्यमंत्री और RJD सुप्रीमो लालू यादव (Lalu Yadav) की पत्नी राबड़ी देवी (Rabri Devi) के सरकारी आवास 10 सर्कुलर रोड पर सीबीआई (CBI Raid) की टीम पहुंची. CBI की टीम राबड़ी देवी के आवास पर पूछताछ करने के लिए आई थी. राबड़ी आवास में छापेमारी की खबर फैलते ही समर्थकों की भीड़ बाहर लग गई. राजद समर्थकों ने इस छापेमारी के खिलाफ नारेबाजी की. इस बीच एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा. इस वीडियो में तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) मसाज कराते दिखे.

दरअसल, ये वीडियो राबड़ी आवास का बताया जा रहा है. इंटरनेट मीडिया पर वायरल इस वीडियो को लेकर कहा जा रहा है कि ये वीडियो रेड के दौरान का है. तेज प्रताप यादव का निजी सुरक्षाकर्मी से मसाज कराने का जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसे राबड़ी आवास का बताया जा रहा है. इसके बारे में यह भी बताया जा रहा है कि ये वीडियो CBI रेड के दौरान का है. हालांकि ट्रेंडिंग बिहार इस वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है.

जानकारी हो कि लगभग चार साल बाद सीबीआई की टीम ने राबड़ी देवी के आवास पर दस्तक दी. सीबीआई की टीम पहुंचते ही राबड़ी आवास पर हलचल तेज हो गई. छापेमारी के समय तेज प्रताप यादव अपनी मां राबड़ी देवी के साथ मौजूद रहे. वहीं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव एक अधिवेशन में शामिल होने लंदन गए हैं.

आपको बता दें कि चार साल पहले मई 2018 में राबड़ी देवी से सीबीआई की टीम ने करीब 50 मिनट तक पूछताछ की थी. बता दें कि सीबीआई ने आईआरसीटीसी होटल आवंटन मामले में पहले ही चार्जशीट दाखिल कर चुकी है. तब जब सीबीआई ने चार्जशीट दाखिल की थी तो कोर्ट ने सीबीआई की चार्जशीट दाखिल करने पर सवाल उठाये थे.

बता दें कि चारा घोटाला के डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी के मामले में लालू प्रसाद यादव को झारखंड हाईकोर्ट ने बीते महीने 22 तारीख को जमानत दी है. जमानत के बाद उन्होंने कुछ दिनों तक एम्स में अपना इलाज कराया, जिसके बाद से वे अपनी बड़ी बेटी मीसा भारती के घर पर हैं. मालूम हो कि सुनवाई से पहले ही तबीयत अधिक खराब होने की वजह से लालू को एयर एंबुलेंस से दिल्ली एम्स लाया गया था.

हालांकि, उस वक्त काफी ड्रामा हुआ था. एम्स के डॉक्टरों ने जांच के बाद उन्हें सामान्य बताते हुए रांची के रिम्स में ही इलाज कराने को कहा था, जिसके बाद वे वापस लौटने की तैयारी में थे. लेकिन अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके बाद उन्हें भर्ती ले लिया गया था.