Bihar : मुखिया और वार्ड सदस्य को दी गई बड़ी जिम्मेदारी, नीतीश सरकार ने सौंपा ये काम

Share It

PATNA : बिहार (Bihar) सरकार ने मुखिया (Mukhiya) और वार्ड सदस्य (Ward Member) को नई जिम्मेदारी है. इन्हें एक नया काम सौंपा गया है. सरकार के इस फैसले को लेकर ताजा जानकारी साझा की गई है.

सरकार के फैसले के मुताबिक बिहार (Bihar) में भूजल को निगरानी आम लोगों से लेकर मुखिया और वार्ड सदस्य भी करेंगे. इसके लिए वाट्सएप ग्रुप (WhatsApp Group) तैयार किया जायेगा. गर्मी में पेयजल की स्थिति की समीक्षा मंगलवार को मुख्य सचिव ने को मुख्य सचिव ने पीएचइडी अधिकारियों को निर्देश दिया कि खराब पड़े चापाकलों को एक सप्ताह में ठीक करें.

भूजल की निगरनी के लिए बने वाट्सएप ग्रुप में जलापूर्ति योजना के पंप ऑपरेटर, मुखिया, वार्ड सदस्य, गांव के प्रभावी व्यक्तियों को जोड़ने का निर्देश दिया गया. इससे पेयजल की समस्या होने और पेयजल स्रोत की मरम्मत की आवश्यकता होने पर शिकायत, सुझाव साझा किया जा सकेगा.

इस ग्रुप की निगरानी हर दिन मुख्यालय स्तर पर की जा रही है. साथ ही एक अप्रैल से सभी ग्रामीण वार्डो में जलापूर्ति योजनाओं को सुबह पांच से आठ बजे और शाम चार बजे से सात बजे चलाने का निर्देश दिया गया है. मंत्री व जनप्रतिनिधियों ने जिन 3378 चापाकलों को पत्र लिखकर ठीक कराने का अनुरोध किया गया था, उन्हें ठीक कर दिया गया है.