हेडमास्टर बहाली के लिए BPSC ने बढ़ाई तारीख, अब इस दिन तक कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन, देखिये ताजा डिटेल

Share It

PATNA : बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) ने राज्‍य सरकार के उच्‍च माध्‍यमिक विद्यालयों में 6421 पदों पर हेडमास्टर के पदों पर बहाली की तारीख बढ़ा दी है. प्लस टू स्कूलों में प्रधानाध्यापक और प्राथमिक स्कूलों में प्रधान शिक्षक की नियुक्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 11 अप्रैल से बढ़ाकर अब 21 अप्रैल कर दी गयी है. आवेदन को एडिट करने की अंतिम तिथि भी अब 18 अप्रैल के बजाय 30 अप्रैल होगी. एडिट के लिए 22 से 30 अप्रैल तक लिंक उपलब्ध रहेगा. बीपीएससी व शिक्षा विभाग के बीच सोमवार को हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया.

कुछ समय पहले ही आवेदन की अंतिम तिथि में संशोधन किया गया था. तब आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 मार्च थी लेकिन उसे बढ़ाकर 11 अप्रैल तक किया गया था. अब आवेदन की अंतिम तिथि को बढ़ा कर 21 अप्रैल कर दिया गया है. इन प्रधानाध्यापकों के लिए 35 हजार रुपए वेतनमान निर्धारित है. इसके अलावा राज्‍य सरकार अन्य भत्तों का भुगतान भी करेगी. इससे जुड़ी जानकारी विस्तार से आयोग की वेबसाइट bpsc.bih.nic.in पर देख सकते हैं.

आधिकारिक नोटिफिकेशन

आपको बता दें कि बिहार के उच्च माध्यमिक विद्यालयों में पहली बार 6421 प्रधानाध्यापकों की नियुक्ति परीक्षा के आधार पर होगी. इसमें महिला उम्मीदवारों के लिए 2179 पद सुरक्षित होंगे. बिहार लोक सेवा आयोग को परीक्षा कराने की जिम्मेवारी दी गई है. इसके पहले प्राचार्यों की नियुक्ति परीक्षा के आधार पर नहीं होती थी. इंटरव्यू और अनुभव के आधार पर प्रधानाध्यापकों की नियुक्ति होती रही है. इसमें वरीयता के आधार पर प्रभारी प्राचार्यों की नियुक्ति होती रही है.

इस भर्ती अभियान के तहत बिहार के वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में कुल 6439 पदों पर भर्ती की जाएगी. इनमें सामान्य के लिए 2571, ईडब्ल्यूएस के 639, ओबीसी 769, ईबीसी 1157, ई.पू. महिला 192, अनुसूचित जाति के 1027 और एसटी के 66 पद भरे जाएंगे. आवेदकों को लिखित परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा.

शैक्षणिक योग्यता
उम्मीदवार भारत का नागरिक और बिहार राज्य का निवासी होना चाहिए.
मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कम से कम 50% अंकों के साथ स्नातकोत्तर होना चाहिए.
मान्यता प्राप्त संस्थान से बी.एड/बी.ए.एड./बी.एससी. ईडी की डिग्री होनी चाहिए.
2012 या उसके बाद नियुक्त शिक्षकों के लिए आयोजित ‘शिक्षक पात्रता परीक्षा’ में उत्तीर्ण होना चाहिए.

आयु सीमा
BPSC हेड मास्टर पद के लिए आवेदन करने वाले की आयु 31 से 47 वर्ष होनी चाहिए. आरक्षित श्रेणी में सरकार के प्रावधान के अनुसार छूट दी जाएगी.

8 से 12 साल तक की नियमित सेवा का अनुभव जरूरी
प्रधानाध्यापक के पद पर आवेदन के लिए न्यूनतम अनुभव सीमा राज्य सरकार के विद्यालय में पंचायती राज संस्था और नगर निकाय के अधीन माध्यमिक शिक्षक पद पर न्यूनतम 10 साल की सेवा, सीबीएसई, आइसीएसई, बीएसईबी से स्थायी संबद्धता प्राप्त विद्यालय में माध्यमिक शिक्षक के पद पर न्यूनतम 12 साल की लगातार सेवा का अनुभव आवश्यक है.

राज्य सरकार के विद्यालय में पंचायती राज संस्था और नगर निकाय के तहत उच्च माध्यमिक शिक्षक के पद पर न्यूनतम 8 वर्ष की सेवा देने वाले और सीबीएसई, आइसीएसई, बीएसईबी से स्थायी संबद्धता प्राप्त विद्यालय में उच्च माध्यमिक शिक्षक के पद पर न्यूनतम आठ वर्ष की लगातार सेवा का अनुभव आवश्यक है.

आवेदन शुल्क
आवेदन करने के लिए उम्‍मीदवारों को एक निर्धारित आवेदन शुल्‍क का भुगतान करना होगा.
सामान्य / OBC/ अन्य राज्य – 750 रुपए
SC / ST / PH – 200 रुपए
महिला उम्मीदवार (बिहार डोम) – 200/ रुपए

चयन प्रक्रिया
हेड मास्‍टर पदों के लिए आवेदकों का चयन लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाएगा. आवेदकों की ओर से हासिल किए गए उच्चतम अंकों के आधार पर एक मेरिट सूची तैयार की जाएगी. इसमें किसी तरह का कोई इंटरव्‍यू नहीं होगा.

इस पद के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन किया जाएगा जिसमें 150 प्रश्न पूछे जाएंगे. सामान्य अध्ययन से 100 और बीएड कोर्स से 50 अंक के सवाल पूछे जाएंगे. परीक्षा ओएमआर शीट पर होगी. हर एक सवाल के लिए एक अंक मिलेंगे जबकि 0.25 अंक गलत उत्तर देने पर कटेंगे। प्रश्न का उत्तर नहीं दिए जाने पर कोई अंक नहीं दिया जाएगा.

यह लिखित परीक्षा दो घंटे की ली जाएगी. लिखित परीक्षा में सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को 40 प्रतिशत, पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 36.5 प्रतिशत, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को 34 प्रतिशत और एससी-एसटी, महिलाओं और दिव्यांग उम्मीदवारों के लिए 32 प्रतिशत न्यूनतम क्वालिफाई अंक है.