Lin Laishram : इस मैरी कॉम एक्ट्रेस ने बॉलीवुड में नस्लभेद का किया पर्दा-फास

Share It

बॉलीवुड की राह आसान नहीं होती है। यहाँ, हर कदम पर मुश्किलों के साथ-साथ निन्दा का भी सामना करना पड़ता है। भारत विभिन्न संस्कृति वाला देश है। यहाँ लोग एकता के साथ रहते हैं, लेकिन फिर भी कुछ समुदायों को नस्लभेद का सामना करना पड़ता है। मणिपुर की रहने वाली एक्ट्रेस लिन लैशराम (Lin Laishram) ने उत्तर-पूर्व के लोगों के साथ होने वाले भेदभाव के बारे में बताया।

मॉडल लिन लैशराम (Lin Laishram) ने हाल ही में ओमंग कुमार (Omung Kumar) की मैरी कॉम (Mary Kom) पर कास्टिंग के दौरान भेदभाव के बारे में बात की। उन्होंने मैरी कॉम की तरह दिखने के लिए किए गए प्रयासों के लिए प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra) की प्रशंसा की। हालांकि, उन्होंने कहा कि मणिपुर या पूर्वोत्तर की लड़कियों को निश्चित रूप से मैरी कॉम के रोल करने के लिए कास्ट किया जा सकता था।

जब बॉलीवुड की बात आती है तो उत्तर पूर्वी लोगों के पास कुछ भी नहीं होता है। उन्हें दुर्लभ आदिवासी वेशभूषा और अजीबोगरीब बातें करके बुरी तरह से प्रदर्शित किया जाता है। इस कोरोना महामारी ने उत्तर-पूर्व के लोगों के साथ हो रहे नस्लभेद को और बढ़ाया है। एक बार जब वे अपने पैरेंट्स को एयरपोर्ट पर छोड़कर घर वापस जा रही थी तो दो लोगों ने उनका पीछा किया और उन्हें कोरोनावायरस कहकर बुलाने लगे।

लिन, ‘ओम शांति ओम’, ‘मैरी कॉम’ और ‘रंगून’ जैसी फिल्मों में काम कर चुकीं हैं। इतने उतार-चढ़ाव के बावजूद वे बिना-सोचे समझे बॉलीवुड में आईं और आगे भी काम करने की उम्मीद रखती हैं। वे कोशिश करते रहेंगी और उन्हें उम्मीद है की चीजें एक दिन और बेहतर हो जाएँगी।