भोजपुरिया बवाल में अबकी बार फंसे पवन सिंह के छोटे भाई रितिक सिंह

Share It

Trending Bihar, Entertainment Desk

जैसे बिना चटनी के समोसा के स्वाद में मजा नहीं आता मुझे ऐसा लगता है भोजपुरी बिना कंट्रोवर्सी के मजा नहीं आता। आजकल कौन किसका गाना गा लेता है समझ में ही नहीं आता। अगर आप अभी के भोजपुरी गानों के प्रेमी है तो लहंगा लखनउआ वाला बवाल तो याद होगा ही। वैसे इस तरह की चर्चा भोजपुरी इंडस्ट्री के गलियारों में कोई नई बात नहीं हैं। कभी ये चर्चा कानाफूसी तक ही रुक जाती हो तो कभी तेलपिलावन लाठी तो फिर कभी सोशल मीडिया का सहारा लेकर आरोप और सफाई की बातें चलते रहती है

लाइव आने से दो फायदा होता है एक तो मुद्दे को तूल मिल जाता है और ऊपर से वायरल होना भी आसान होता है। आपको भी पता है अच्छी चीजों से ज्यादा कौन सी चीजें वायरल होती है। खैर अब सब गिनाने लगे तब आप भी ऊब जायेंगे और अभी का तत्कालीन मुद्दा से भटक जायेंगे।

तो बात कुछ ऐसा है जैसे लखनउआ लहंगा पे बवाल हुआ था, बवाल ये था की किसका गाना कौन गाया पते नहीं चल रहा था ठीक उसी तरह अब बवाल मचा है की कौन किसका रात्रि का यात्री बना है।

दरअसल बात ये है की आज लगभग एक साथ दो चैनल JMB ओर नीलकंठ फिल्म पे एक ही गाना रिलीज हुआ है और गानें के बोल है रात्रि के यात्री। JMB के लिए गाया है पवन सिंह के छोटे भाई कहे जाने वाले ऋतिक सिंह और शिल्पी राज (Shilpi Raj) ने वहीं नीलकंठ के लिए गाया है सुबोध प्रेमी यादव और नेहा राज (Neha Raj) ने।

इस बारे में सुबोध प्रेमी यादव ने एक वीडियो रिलीज किया है आइये पहले देखते हैं वो वीडियो फिर बात करते हैं पवन सिंह (Pawan Singh) के भाई ऋतिक सिंह (Ritik Singh) के बारे में। ……

आपने वीडियो देखा और समझा की गायक सुबोध (Subodh Premi Yadav) पीछे तो हटने वाले नहीं हैं, वो लड़ेंगे और डटे रहेंगे। वैसे उन्होंने इसका जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ कंपनी को ही ठहराया है। इन दोनों गानों के कंपोजर एक ही है लेकिन लेखक अलग अलग। इसे लेकर जब हमने ऋतिक सिंह जी से बात करने की कोशिश की तो रिंग तो बजा लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया। अब पता नहीं इस लॉकडाउन में वो कहां व्यस्त है, खैर हम कोशिश करेंगे जल्द ही उनका पक्ष आपके साथ साझा करें, बस वो इस लॉकडाउन से फ्री हो जाये।

आपको क्या लगता है कौन सही होगा,,,,ये बात कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। बाकि झूठ मुठ का व्यस्त होने का नाटक करने से बचें, क्योंकि किसी महान इंसान ने कहा है जो बिना मतलब हमेशा व्यस्त होता है उसकी जिंदगी अस्त व्यस्त होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.