Patna में 2 सगी बहनों से बलात्कार, दो लड़कों ने पिस्टल भिड़ाकर रात भर लूटी इज्जत

Share It

PATNA : बिहार की राजधानी पटना (Patna) से रोगंटे खड़े कर देने वाली एक वारदात सामने आई है. यहां दो लड़कों ने 2 सगी बहनों के साथ बलात्कार किया. दोनों पीड़िता ने बताया कि आरोपियों ने उनके मुंह में पिस्टल भिड़ाकर पहले उन्हें काफी डराया धमकाया और फिर करीब 3 घंटे तक उनकी इज्जत लूटी. दोनों ने थाना पहुंचकर जब पुलिस को पूरी बात बताई तो पुलिस अधिकारियों के भी पैरों तले जमीन खिसक गई.

दरअसल, पटना (Patna) में दो सगी बहनों के साथ रेप का मामला सामने आया है. पीड़ित नाबालिग बहनों ने बताया कि मुंह में पिस्टल भिड़ाकर उन्हें धमकाया गया. दोनों बहनें छोड़ देने की मिन्नतें करती रहीं, लेकिन 3 घंटों तक उनके साथ दरिंदगी को अंजाम दिया गया. फुलवारी शरीफ में वारदात सोमवार देर रात को हुई है.

पीड़ित बहनों ने बताया कि दरिंदगी के बाद आरोपियों ने कहा कि हमारा नाम विशाल और रॉकी है, जाओ, जिसे जो कहना है कह दो, जो करना है कर लो. जैसे-तैसे लड़कियां भाग कर रात 11 बजे थाने पहुंची और अपनी आपबीती सुनाई. मामला संज्ञान में आते ही पुलिस ने दोनों आरोपितों को आज सुबह ही गिरफ्तार कर लिया.

आरोपी का कहना है कि वो इन दोनों बहनों को पहले से जानता है, दोनों शादी के लिए दबाव बना रही थी और जब उसने शादी करने से मना किया तो लड़की ने थाने में जाकर दुष्कर्म की झूठी FIR दर्ज करा दी. दोनों बहनें झूठ बोल रही हैं.

इस मामले पर परिजनों का कहना है कि दो नाबालिग बहनें सोमवार की देर रात अपने घर के बगल के खेत में शौच करने गए थी. इसी क्रम में बाइक पर सवार हथियार लेकर दो युवक वहां पहुंचे और दोनों बहनों को बंधक बना लिया. बंधक बनाने के बाद अपराधियों ने दोनों बहनों को हथियार के बल पर रात भर खेत में दुष्कर्म किया.

दोनों बहनों ने जब शोर मचाने की कोशिश की तो पिस्तौल दोनों के मुंह में डालकर हत्या कर देने की धमकी दे डाली. डर के मारे दोनों बहने चुप रहीं. परिजनों ने बताया कि अपराधियों ने अपना नाम विशाल और रॉकी बताते हुए यह धमकी दी कि थाना भी उसका कुछ बिगाड़ नहीं सकता.

आज सुबह दोनों बहनों को लेकर परिजन खगौल थाना पहुंचे. खगौल थाने के पदाधिकारी ने दोनों बहनों को फुलवारी शरीफ थाना भेजा, जहां शिकायत पर त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों नामजद अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया है. फिलहाल पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई है.