Nalanda में 6 लोगों की मौत से कोहराम, हादसे में गई सभी की जान

Share It

NALANDA: बिहार के नालंदा (Nalanda) जिले में 6 लोगों की मौत से हड़कंप मच गया है. बताया जाता है कि इन सभी की मौत अलग-अलग दुर्घटनाओं में हुई है. एक ही दिन में छह लोगों की मौत से इलाके में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है. मृतकों के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है.

दरअसल, नालंदा में शनिवार हादसों का दिन साबित हुआ. यहां विभिन्न हादसों में किशोर समेत आधा दर्जन लोगों की जान चली गयी. मुआवजे और कार्रवाई की मांग को लेकर चंडी और सारे में ग्रामीणों ने सड़क जाम कर बवाल काटा.

पहली घटना कतरीसराय थाना इलाके के कटौना गांव की है. बताया जाता है कि जानवर को मारने के लिए बिछाए बिजली के तार में फंसकर करंट की चपेट में आने से एक बच्चे की मौत हो गई.

जबकि, दूसरा बालक जख्मी हो गया. मृतक हीरो यादव का 12 वर्षीय पुत्र अजीत कुमार है. जख्मी अनिल यादव के 11 वर्षीय पुत्र छोटू कुमार इलाजरत है. सूचना के बाद गांव पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है.

परिजनों के अनुसार, दोनों बच्चे खंधा में भैंस चरा रहे थे. सुबोध महतो के खेत में खीरा-ककड़ी लगा था. दोनों बच्चा खीरा तोड़ने के लिए गए थे, जहां खेत के चारों ओर बिछाए बिजली तार के संपर्क में दोनों आ गए. तार की चपेट में आने से एक बच्चे की मौके पर मौत हो गई.

दूसरी घटना सारे थाना क्षेत्र अलीनगर गांव के पास की है. यहां अज्ञात वाहन से कुचलकर एक छात्र की मौत हो गयी. मृतक अलीनगर निवासी अखिलेश यादव का आठ वर्षीय इकलौता पुत्र अंकुश कुमार है.

हादसे के बाद ग्रामीणों ने बिहारशरीफ-बरबीघा मार्ग को करीब आधे घंटे तक जाम कर दिया. परिजनों ने बताया कि बच्चा बरबीघा से ट्यूशन पढ़कर अपने गांव वापस लौट रहा था. उसी दौरान किसी वाहन ने उसे धक्का मार दिया.

राहगीर ने सड़क पर गिरे बच्चे को देखकर पुलिस को सूचना दी. तबतक उसकी मौत हो चुकी थी. सूचना पाकर गांव के लोग सड़क पर जमा होकर हंगामा करने लगे. उन्होंने सड़क भी जाम कर दिया.

तीसरी घटना रहुई थाना क्षेत्र के दुलचंदपुर गांव के पास हुई. दरअसल, शुक्रवार की शाम पंचाने नदी में डूबने से बुजुर्ग की मौत हो गयी. मृतक 57 वर्षीय योगेन्द्र प्रसाद हैं.

परिजन ने बताया कि वह शाम को शौच के लिए घर से निकले थे. तब से वापस नहीं लौटे. शनिवार की सुबह नदी से उनकी लाश बरामद की गयी. परिजन हाथ-मुंह धोने के दौरान फिसलकर नदी में गिरने का अंदेशा जता रहे हैं.

मामले पर प्रभारी थानाध्यक्ष विनय कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिया गया है. घटना के बाद से गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है.

चौथी घटना राजगीर थाना क्षेत्र के छबिलापुर-राजगीर स्टेट हाइवे पर डाक बाबा के पास हुई. बताया जाता है कि सड़क किनारे खड़ी महिला व उसके बेटे को गिट्टी छड़ लदे बेलगाम ट्रैक्टर ने रौंद डाला. हादसे में महिला की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी. वहीं उनका पुत्र गंभीर रूप से घायल हो गया.

मृतका की पहचान छबिलापुर थाना क्षेत्र के घासी बिगहा निवासी मल्लु दास की 40 वर्षीय पत्नी रीता देवी के रूप में की गयी है. जख्मी विक्की का इलाज अनुमंडलीय अस्पताल में कराया जा रहा है. घटना के बाद चालक ट्रैक्टर छोड़कर भाग निकला.

पांचवीं घटना चंडी थाना क्षेत्र के माधोपुर बाजार के पास एनएच 431 पर हुई. मिली जानकारी के अनुसार, ट्रक से कुचलकर बाइक सवार युवक की मौत हो गयी.

मृतक की पहचान सिंदुआरा गांव निवासी बालेश्वर राम के पुत्र ज्ञानचंद राम के रूप में की गयी है. हादसे के बाद आक्रोशित लोगों ने एनएच को करीब एक घंटे तक जाम कर दिया. परिजनों ने बताया कि युवक चंडी से अपने गांव सिंदुआरा जा रहा था. माधोपुर बाजार के पास अनियंत्रित स्कॉर्पियो के झटके से वह बाइक समेत सड़क पर गिर गया. उसी समय पीछे से आ रहे गैस सिलेंडर लदे ट्रक ने उसे कुचल दिया. इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गयी.

छठी घटना थरथरी थाना क्षेत्र के अतबलचक गांव की है. यहां करंट से युवक की मौत हो गई. मृतक राजेंद्र यादव का 24 वर्षीय पुत्र गौतम कुमार है.

परिवार के लोगों ने बताया कि युवक भैंस चरा रहा था. उसी दौरान पूर्व से गिरे बिजली के तार की चपेट में आकर उसकी जान चली गई.

रिपोर्ट- प्रणय राज, नालंदा