Bihar : प्रेमी-प्रेमिका ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- एक ही चिता पर जलाई जाए लाश, वरना..

Share It

BETTIAH : बिहार (Bihar) के पश्चिम चंपारण जिले से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां एक युवक और एक युवती की लाश पेड़ से लटकती मिली है. स्थानीय लोगों ने जब दोनों के शवों को देखा तो इलाके में हड़कंप मच गया. मामले की सूचना पुलिस को दी गई जिसके बाद पुलिस ने दोनों लाशों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

घटना बेतिया के बैरिया थाना क्षेत्र के डुमरिया कोइरपट्टी गांव के सरेह की है. दरअसल, आज सुबह-सुबह शीशम के पेड़ से युवक-युवती के लटकते शव को देख सनसनी फैल गई. एक ही दुपट्टे में दोनों शव लटक रहे थे. घटना की सूचना पर बैरिया पुलिस मौके पर पहुंची और शव को नीचे उतरवाई. मृत युवक की पहचान डुमरिया निवासी राजेश पटेल के पुत्र रवि किशन कुमार (21) और युवती की पहचान कोइरपट्टी निवासी हीरा प्रसाद की पुत्री अंशु कुमारी (17) के रूप में की गई है.

तीन भाइयों में सबसे छोटा रवि बेंगलुरु में काम करता था. वह बीते 7 अप्रैल को बंगलुरु से अपने घर आया था. जबकि अंशु तीन बहनों में सबसे छोटी थी. उसकी दो बहनों की शादी हो चुकी है. रवि के घर से करीब 500 मीटर और अंशु के घर से करीब 100 मीटर की दूरी पर स्थित शीशम के पेड़ से दोनों का शव लटक रहा था. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

घटना के बारे में प्रभारी थानाध्यक्ष मनोज कुमार ने बताया कि यह मामला आत्महत्या का है या हत्या का, अभी कुछ कहा नहीं जा सकता. घटनास्थल से दो मोबाइल फोन और एक सुसाइड नोट मिला है. सुसाइड नोट के हैंडराइटिंग का सत्यापन कराया जाएगा. मोबाइल फोन के कॉल डिटेल की छानबीन की जाएगी. मामले की जांच शुरू कर दी गई है.

मृतक रवि किशन कुमार के चाचा रविंद्र पटेल ने बताया कि मंगलवार की रात गांव में आर्केस्ट्रा हो रहा था. रवि किशन कुमार बाइक से आर्केस्ट्रा देखने गया था. रात करीब एक बजे वह बाइक लेकर आर्केस्ट्रा से निकल गया. सुबह में सूचना मिली कि उसका शव पेड़ से लटक रहा है. घटनास्थल से कुछ दूरी पर उसकी बाइक मिली है. जबकि रवि के भाई मंदीप कुमार ने ने कहा कि उसके भाई की हत्या कर शव पेड़ से लटका दी गई है. आत्महत्या का रूप देने की कोशिश की गई है.

वहीं मृतिका अंशु कुमारी के पिता हीरा प्रसाद ने बताया कि दिनभर सरेह में काम करने के बाद जब वह शाम को घर वापस आए तो सब कुछ सामान्य था. अंशु रात 10:30 बजे तक घर में थी. इसके बाद सभी लोग सोने चले गए थे. सुबह में उसका शव पेड़ से लटकने की सूचना मिली. कुछ लोग घटना को प्रेम प्रसंग से जोड़कर देख रहे हैं.

पुलिस ने जो सुसाइड नोट बरामद किया है उसमें लिखा गया है कि हम दोनों अपने मर्जी से आत्महत्या कर रहे हैं. हम नहीं चाहते हैं कि शव का पोस्टमार्टम हो. हमारी अंत्येष्टि एक ही चिता पर की जाए, नहीं तो बहुत बड़ा कांड हो जाएगा.