Bihar : नवनिर्वाचित मुखिया पर बरसी गोलियां, बदमाशों ने घर पर चढ़कर मारी ताबड़तोड़ चार गोली

Share It

BEGUSARAI : बिहार (Bihar) के बेगूसराय जिले में अपराधियों ने एक बड़ी घटना (crime) को अंजाम दिया. अपराधियों ने एक नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधि को निशाना बनाया और घर पर चढ़कर उसे चार गोलियां मार दी. घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है. स्थानीय लोगों में काफी गुस्सा देखा जा रहा है. पुलिस (Bihar Police) मामले की छानबीन में जुटी हुई है.

वारदात बेगूसराय जिले के नया गांव थाना क्षेत्र की है. यहां सफापुर गांव में नवनिर्वाचित मुखिया को अपराधियों ने गोलियां से घायल कर दिया. इस घटना के बाबत मिली जानकारी के अनुसार मुखिया अपने पुराने घर की ओर जा रहा था. इस कड़ी में बेगूसराय में बेखौफ बदमाशों ने घर में घुसकर मुखिया को गोली मार दी है. गोली लगने से गंभीर रूप से घायल मुखिया को इलाज के लिए शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

घायल मुखिया का नाम अमित कुमार है. इस हमले में अमित कुमार को चार गोलियां लगी हैं. उसे स्थानीय लोगों द्वारा एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया. मुखिया की हालत फिलहाल गंभीर बताई जा रही है. लोगों के मुताबिक इस घटना को अंजाम देने के बाद तीनों बाइक सवार पिस्टल को हवा में लहराते हुए मौके से फरार हो गए. इस घटना की पूरी जानकारी पुलिस को दी गई. जिसके बाद से पुलिस लगातार अपराधियों की तलाश में जुटी हुई है. साथ ही जगह जगह छापेमारी कर रही है.

घटना की सूचना पुलिस को दी गई है,जिसके बाद वह छानबीन में जुटी है. हालांकि अभी तक उसके हाथ खाली हैं. बताया जाता है कि अमित कुमार पहली बार पंचायत चुनाव लड़कर मुखिया बने हैं और आशंका जताई जा रही है चुनावी रंजिश में ही इस घटना को अंजाम दिया गया है. इस घटना के बाद भाजपा के निवर्तमान विधान पार्षद रजनीश कुमार ने सवाल खड़े किए हैं. उनका कहना है कि अपराधियों के इस तरह से हमले से यह पता चलता है कि अपराधी किस तरह से बैखोफ है.

उधर, सीपीएम के जिला पार्षद अंजनी सिंह ने कहा कि बेगूसराय में लगातार अपराधी बेखौफ होकर घटना को अंजाम दे रहे हैं. लेकिन पुलिस प्रशासन रोकने में विफल है जिसका नतीजा है कि जिले के सबसे कम उम्र के मुखिया को बदमाशों ने गोली मार दी जबकि अमित कुमार पहली बार मुखिया बने हैं और उनका किसी से कोई विवाद नहीं है.