V Tejaswini Bai : कोविड -19 महामारी में खेल मंत्रालय ने बढ़ाया मदद का हाथ, इस खिलाड़ी को मिलेंगे 2 लाख

Share It

Ministry of Youth Affairs & Sports ने कर्नाटक की V Tejaswini Bai के लिए 2 लाख रुपये की राशि को मंजूरी दी है। इस वित्तीय सहायता को मंजूरी महामारी के दौरान पूर्व एथलीटों और कोचों का समर्थन करने के लिए Indian Olympic Association के साथ नई संयुक्त पहल के तहत दी गई है। यह वित्तीय सहायता खिलाड़ियों के लिए Pandit Deendayal Upadhyay National Welfare Fund से स्वीकृत की गई है।

तेजस्विनी और उनके पति, 1 मई को कोविड -19 से संक्रमित हो गए थे। वे दोनों घर पर ही ठीक हो रहें थे, जबकि तेजस्विनी को थोड़ी खांसी थी। इस ठीक होने सिलसिले में तेजस्विनी के पति नवीन ने 11 मई को वायरस से दम तोड़ दिया। वह सिर्फ 30 साल के थे लेकिन अपने पिता की मृत्यु के बाद वह बहुत घबरा रहे थे। यह डर और तनाव था जिसने उसकी जान ले ली।

इस पहल के बारे में तेजस्विनी को कर्नाटक खेल समिति के सदस्य और पूर्व अर्जुन पुरस्कार विजेता Honnaappa Gowda से पता चला और अब वह अपने बच्चे के भविष्य की सुरक्षा के लिए पैसे का निवेश करना चाहती है। उनका एक 5 महीने का बच्चा है, जिसकी देखभाल अब तेजस्विनी को ही करनी हैं क्योंकि वही अब उस बच्चे की अकेली माता-पिता हैं।

तेजस्विनी बाई कबड्डी के खेल में भारत की प्रतिनिधि हैं। उन्होंने 2011 में अर्जुन पुरस्कार जीता और वह महिला कबड्डी टीम की सदस्य थीं, जिन्होंने क्रमशः 2010 और 2014 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे। उन्हें आठवीं कक्षा से ही कबड्डी खेलने का शौक जागा था। बाई 2010 में भारतीय कबड्डी टीम की कप्तान बनीं।