Cyclone Tauktae : गोवा महाराष्ट्र में तबाही का खौफनाक मंजर पीछे छोड़ गुजरात मे तांडव करने पहुँचा ‘ताउते’

Share It

Trending Bihar, Central Desk

इस साल अरब सागर में उठा पहला चक्रवाती तूफान गुजरात के तट से टकरा कर कमजोर पड़ गया है। लक्षद्वीप से तबाही का तांडव करता यह चक्रवाती तूफान अपने पीछे बर्बादी का खौफनाक मंजर छोड़ता 17 मई की रात गुजरात पहुँचा था। ताउते तूफान का तांडव गोवा, महाराष्ट्र से ले कर गुजरात तक देखने को मिला। गुजरात से टकरा के ताउते चक्रवाती तूफान कमजोर जरूर पड़ा है पर रुका नहीं है। सब कुछ तहस नहस करता , तबाही मचाता ताउते आगे बढ़ रहा है।

17 मई को मुंबई में इस तूफान की वजह से हुई मूसलाधार बारिश ने पिछले 21 सालों के रिकॉर्ड तोड़ दिया। 17 मई को मुम्बई में 200 एम एम बारिश रिकॉर्ड की गई। तूफान के तबाही का मंजर यही नहीं थमा, बॉम्बे हाई के पास 200 से ज्यादा लोगों से भरा एक जहाज भी डूब गया। हालांकि 170 लोगों को खोज लिया गया है जबकि 30 लोग अभी भी लापता हैं और उन्हें खोजने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

मुंबई में तूफान की तबाही का मंजर काफी खौफनाक था। रिपोर्ट्स के मुताबिक तूफान के कारण 17 मई को वहां 12 लोगों की जान चली गई, जबकि 17 लोग जख्मी हुई। तूफान की वजह से जगह-जगह पेड़ और बिजली खंभे गिरे, जिनसे लोगों के घरों को भी काफी नुकसान हुआ ।

महाराष्ट्र में तबाही मचाने के बाद तूफान गुजरात की ओर बढ़ गया। तूफान के दस्तक देने से पहले ही वहां के तटीय क्षेत्र से करीब 1500 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया था। बता दें, तूफान में हवाओं की गति 150 किलोमीटर प्रति घंटे से ले कर 175-180 किलोमीटर प्रतिघंटे तक रही।

ताउते तूफान सौराष्ट्र की ओर बढ़ रहा है। वहां के 84 तहसीलों में भारी बारिश हो रही है। हालांकि इस आपदा से निपटने के लिए रेस्क्यू टीमों को तैनात किया गया है। वही तूफान के सौराष्ट्र से होते हुए पाकिस्तान की ओर मुड़ने के आसार है। पाकिस्तान के तटीय इलाकों में मौसम में लगातार बदलाव देखा जा रहा है। तूफान की संभावना को देखते हुए तटीय इलाकों को वहाँ के प्रशासन ने हाई अलर्ट पर रखा है।