भारत में शुरू हुआ Sputnik V का उत्पादन

Share It

Russian Direct Investment Fund (RDIF) और भारतीय दवा कंपनी Panacea Biotec ने भारत में Sputnik V कोरोनावायरस वैक्सीन का उत्पादन शुरू करने की घोषणा की। इस गर्मी में वैक्सीन का पूर्ण पैमाने पर उत्पादन शुरू होने की उम्मीद है। भारत की Panacea Biotec अब हर साल Sputnik V की 10 करोड़ खुराक का उत्पादन करेगी।

Panacea Biotec के हिमाचल प्रदेश के Baddi कारखाने में तैयार की गई COVID-19 के Sputnik V वैक्सीन के पहले बैच को रूस के Gamaleya Center भेजा जायेगा जहां इसकी गुणवत्ता की जांच परख होगी। देश में स्पुतनिक वी वैक्सीन (Sputnik V) का उत्पादन अगस्त में शुरू होने की उम्मीद है। Panacea Biotec के साथ साझेदारी में भारत में इस वैक्सीन उत्पादन का शुभारंभ देश को महामारी से लड़ने में मदद करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

भारत में स्पुतनिक वी का उत्पादन तीन चरणों में किया जाएगा। सबसे पहले चरण में, रूस से पूरी तरह से आपूर्ति की गई, जो पहले ही शुरू हो चुकी है। दूसरे चरण में, RDIF थोक में भारत भेजेगा। यह उपयोग के लिए तैयार होगा लेकिन इसे भारत में विभिन्न बोतलों में भरना होगा। तीसरे चरण में, रूसी पक्ष एक भारतीय कंपनी को टेक्नोलॉजी ट्रांसफर करेगा और भारतीय कंपनी इसका पूरी तरह से उत्पादन करेगी। इन तीनों को मिलाकर लगभग 850 मिलियन खुराकें होंगी।

स्पुतनिक वी को 3.2 अरब से अधिक लोगों की कुल आबादी के साथ विश्व स्तर पर 66 देशों में पंजीकृत किया गया है। इस वैक्सीन को 12 अप्रैल, 2021 को आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण प्रक्रिया के तहत भारत में पंजीकृत किया गया था, और रूसी वैक्सीन के साथ कोरोनावायरस के खिलाफ टीकाकरण 14 मई को शुरू हुआ था।