Navjot Singh Sidhu किसानों के साथ हैं, काला झंडा है सबूत

Share It

केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन नए कृषि क़ानूनों को लेकर किसान संगठन नवंबर 2020 से राजधानी दिल्ली की सीमा पर प्रदर्शन कर रहे है। 26 मई 2021 को किसानों के इस आंदोलन के 6 महीनें पूरे होने जा रहे है। इस मौके पर किसान दिल्ली की सीमाओं पर जोरदार प्रदर्शन करने की तैयारी में है। किसान संगठन, किसानों के नए काफिले पंजाब और हरियाणा से दिल्ली की ओर जाने के लिए अपना रास्ता बना रहे हैं।

नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने अपने घर पर लगाया काला झंडा

पूर्व क्रिकेटर और पंजाब में कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के पक्ष में अपने घर पर काला झंडा लगा कर किसानों को अपना समर्थन दिया है। उन्होंने कहा कि पंजाब आज तीन काले कानूनों के खिलाफ लड़ रहा है। किसानों के समर्थन में लोगों का आगे आना चाहिए।

दूसरी ओर भारत मे कोरोना की स्थिति काफी चिंता जनक है। ऐसे में संयुक्त किसान मोर्चा के नेता ने कहा है कि वे किसानों की ताकत दिखाने के लिए ऐसा नहीं करेंगे बल्कि कोविड प्रोटोकॉल के साथ एक प्रतीकात्मक विरोध करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि वो गांवों, शहरों और दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन करेंगे। किसान काली पगड़ी, दुपट्टे या कपड़े पहनकर प्रदर्शन करेंगे साथ ही किसान अपनी छतों, ट्रैक्टरों पर काले झंडे लगाएंगे और पंजाब के हर गांव और दिल्ली की सीमाओं पर मोदी सरकार के पुतले जलाएंगे। उन्होनें अपनी बात में आगे कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि उन्होंने बड़े स्तर पर किसान आंदोलन किया है लेकिन उनका ध्यान संख्या पर नहीं है। वो सामाजिक दूरी और अन्य कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए विरोध करेंगे।