होलिका दहन आज, कल नहीं परसों मनेगी Holi, इस साल रंगोत्सव पर भ्रदा का साया

Share It

PATNA : रंगोत्सव की चहल-पहल बाजारों में दिखने लगी है. हर कोई होली (Holi) के उल्लास और उमंग में डूबा नजर आ रहा है. फिजा में होली का रंग और तराने घुल से गए हैं. लोग होली की तैयारियों को अंतिम रूप देने में लगे हुए हैं. लेकिन इस बीच कुछ लोगों में रंगोत्सव को लेकर कन्फ्यूजन भी है कि होली 18 मार्च को है या फिर 19 मार्च को.

होली को लेकर घर से लेकर बाजार तक तैयारी जोरों पर है. आज गुरुवार को होलिका दहन होगा. इसके लिए पटना शहर के चौक-चौराहों पर लकड़ियों का ढेर लग गया है. आज रात 12 बजकर 57 मिनट के बाद होलिका दहन का मुहूर्त है. उससे पहले महिलाएं होलिका पूजन करेंगी. इस बार रंगोत्सव पर भ्रदा का साया है.

दरअसल होलिका दहन पूर्णिमा तिथि में रात के समय भद्रामुक्त काल में होता है. इस साल रात बारह बजे के बाद तक भद्रा का साया रहने के कारण होलिका दहन के एक दिन बाद होली मनाई जाएगी. बनारसी पंचांग के अनुसार 17 मार्च यानी गुरुवार की मध्यरात्रि 12.57 बजे से पहले और मिथिला पंचांग के अनुसार रात्रि 1.09 बजे से पहले तक भद्रा का साया रहेगा. होलिका दहन भद्रा के बाद होगा.

आचार्य माधवानंद के मुताबिक फाल्गुन पूर्णिमा दो दिन होने के कारण लोगों में होली को लेकर विस्मय की स्थिति बनी है. होली दहन के साथ ही होलाष्टक खत्म हो जाएगा और मांगलिक कार्यों पर लगी रोक खत्म हो जाएगी. भारतीय ज्योतिष विज्ञान परिषद के अनुसार सूर्य 14 अप्रैल तक मीन राशि में रहेंगे. सूर्य के मीन राशि में जाने से मलमास शुरू हो जाएगा. इसलिए होली शनिवार के दिन 19 मार्च को ही मनाई जाएगी.

राजधानी पटना में होलिका दहन को लेकर पटना पुलिस अलर्ट है. गुरुवार की देर रात सभी थानों की पुलिस को अपने-अपने इलाके में गश्ती व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखने के निर्देश दिये गये हैं. होलिका दहन के दौरान फायरब्रिगेड दस्ता भी अलर्ट रहेगा. शहर के मुख्य चौक-चौराहों पर पुलिस टीम की तैनाती रहेगी. अतिरिक्त पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है.