स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया Co-Win app के हैक होने का सच

Share It

कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने के लिए टिकाकरण जोरों पर है। भारत में टिकाकरण (Vaccination) की बुकिंग और रजिस्ट्रेशन को-विन एप (Co-Win app) के द्वारा किया जा रहा है। इस एप के जरिये लोग अपने आस-पास के टिकाकेन्द्रों पर उपलब्ध स्लॉट्स (Slots) की जानकारी भी पा सकते हैं। बीते कुछ दिनों से इस एप के हैक (Hack) हो जाने की बात जोर पकड़ रही थी। जनता चिंतित थी क्योंकि लोगों की निजी जानकारी इस एप पर डली हुई थी।

को-विन एप के हैक होने की खबर को स्वास्थ्य मंत्रालय ने खारिज किया है। उन्होंने इसे एक झूठी अफवाह बताया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि टीकाकरण से जुड़ा सभी डेटा सुरक्षित है। मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि बाहर के किसी भी संस्था के साथ को-विन का डेटा साझा नहीं किया जाता है। टीकाकरण पर अधिकार प्राप्त समूह ईजीवीएसी (EGVSC) के अध्यक्ष डॉ. आर एस शर्मा ने कहा कि टीकाकरण डेटा संग्रहित करने वाला को-विन एक सुरक्षित डिजिटल पोर्टल है।

को-विन एप में रहती है लोगों के टीकाकरण की पूरी जानकारी

को-विन एप भारत में कोरोना टीकाकरण के लिए एक क्लाउड आधारित मैनेजमेंट सिस्टम है। इस एप में टीकाकरण केंद्र से लेकर टीका लेने वाले लोगों की पूरी जानकारी रहती है। भारत में जिसे भी कोविड की वैक्सीन लेनी होती है, उन्हें इसके लिए को-विन पोर्टल पर रजिस्टर करना होता है। इसमें भारत में लगाए जाने वाले टीकों का पूरा लेखा-जोखा रहता है। साथ ही किसे कहां, कब और कौन सा टीका दिया गया, इसका भी पूरा डाटा बेस रहता है।

को-विन एप को बेहतर बनाने के लिए इसमें किए गए हैं कई अपडेट्स

हाल ही में को-विन एप में कुछ अपडेट्स किए गए हैं। ये हैं-

  • अगर किसी व्यक्ति ने वैक्सीन स्लॉट के लिए 24 घंटे के अंदर 1,000 बार सर्च कर लिया है या फिर 50 से ज्यादा ओटीपी जेनरेट कर ली है तो वह ब्लॉक हो जाएगा।
  • 15 मिनट में 20 से ज्यादा बार वैक्सीन स्लॉट सर्च किए जाने पर पोर्टल अपने आप लॉग आउट हो जाएगा।
  • सरकार ने एक नए अपडेट की घोषणा की है जिसके तहत टीका लाभार्थी अब खुद ही अपने कोविड-19 टीकाकरण प्रमाण पत्र में अनजाने में हुई गलतियों को को-विन पोर्टल पर ठीक कर सकते हैं।
  • जिन लोगों का टीकाकरण हो चुका है उन्हें कोविन पोर्टल से टीकाकरण की स्थिति के सत्यापन के बाद अपने आरोग्य सेतु एप के होम स्क्रीन पर टीकाकरण स्थिति के सामने ब्लू टिक दिखाई देगा।

अब तक कुल 27.78 करोड़ लोगों का हो चुका है रजिस्ट्रेशन

बता दें, अब तक को-विन पोर्टल पर कुल 27.78 करोड़ लोग टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर चुके हैं। इनमें से 11.52 करोड़ लोग 18 से 44 आयुवर्ग के हैं जबकि 16.26 करोड़ लोगों की उम्र 45 वर्ष से ज्यादा है। राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक लोगों को टीके की 24.6 करोड़ खुराक दी जा चुकी है। अब तक 19.6 करोड़ लोगों को वैक्सीन की पहली डोज मिल चुकी है जबकि 4.61 लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है।