12 june 2021: Updates

Share It

Covid essentials पर GST में छूट

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के अद्यक्षता में आज 44वीं जीएसटी कॉउन्सिल (GST Council) मीटिंग की गई। जिसमें फैसला लिया गया है कि कोविड (Covid 19) महामारी के मद्देनजर कोविड के इलाज एवं बचाव के लिए इस्तेमाल होने वाली वस्तुओं की कीमतों पर जीएसटी रेट कम किये जायेंगे।
जिनमें कोविड के दौरान इस्तेमाल होने वाली दवाएं, ऑक्सिजन कंसन्ट्रेटर और उस से जुड़े अन्य उपकरण, कोविड की जांच में इस्तेमाल होने वाले किट और सेनिटाइजर इत्यादि शामिल हैं।

Officers Tranning Academy, Gaya से पास हुए 89 कैडेट्स

ऑफिसर्स ट्रेंनिंग अकादमी, गया से 89 कैडेट्स आज पास ऑउट हुए हैं। जिनमें 20 स्पेशल कमीशंड ऑफिसर्स (Special Commissioned Officers) (SCO) – 46 Course, 60 जेंटलमैन कैडेट्स ऑफ टेक्निकल एंट्री स्कीम (Gentlemen Cadets of Technical Entry Scheme (TES) – 43 Course और 9 आसाम राइफल्स (Assam Rifles) के कैडेट्स शामिल थे।

बिहार में मानसून ने दी तय समय से पहले दस्तक

मौसम विभाग ने मानसून अपडेट में बताया है कि दक्षिण पश्चिम मानसून ने 12 जून 2021 को राज्य में प्रवेश किया है और यह दरभंगा शहर तक पहुंच गया है। मानसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम) अक्षांश 20.5 डिग्री उत्तर / देशांतर 60 डिग्री पूर्व, दीव, सूरत, नंदुरबार, रायसेन से होकर गुजरती है। दमोह, उमरिया, पेंड्रा रोड, बोलांगीर, भुवनेश्वर, बारीपदा, पुरुलिया, धनबाद, दरभंगा और अक्षांश 27°N/देशांतर 85.0°E. मौसम विभाग के अनुसार मानसून के आगे बढ़ने और अगले 24 घंटों के दौरान पूरे राज्य को कवर करने के लिए स्थितियां अनुकूल हैं।

इस साल मानसून की शुरुआत सामान्य तिथि से एक दिन पहले हुई है। संशोधित शुरुआत तिथियों के अनुसार जो 2020 से लागू हुई उसके अनुसार पूर्णिया में यह तिथि 13 जून है । राजधानी पटना में सामान्य शुरुआत की तारीख 16 जून है।

पिछले पंद्रह वर्षों के दौरान, राज्य में सबसे पहले शुरुआत 2008 में हुई थी, जब 8 जून को मानसून ने दस्तक दिया था।

सत्रीय पूर्वानुमान के अनुसार, बिहार राज्य में जून में सामान्य से अधिक बारिश होने की संभावना है।

DRDO ने खड़ा किया केवल 17 दिनों में 500 बेड का Covid अस्पताल

डीआरडीओ (DRDO) द्वारा 500 बेड का कोविड अस्पताल खोंमोह, श्रीनगर (Khonmoh, Srinagar) में शुरू हो गया है। इस अस्पताल का खर्च प्रधानमंत्री राहत कोष (PM Cares Funds) द्वारा उठाया जा रहा है। यह अस्पताल केवल 17 दिनों में खड़ा किया गया है तथा यहां इलाज भी शुरू हो चुका है।