1 April से बदल गए ये 15 बड़े नियम, कई चीजें हुईं सस्ती-महंगी, देखिये पूरी लिस्ट

Share It

PATNA : आज से अप्रैल महीने की शुरुआत हो गई है. 1 अप्रैल (1 April) यानी आज नए वित्तीय वर्ष 2022-23 (Financial Year 2022-23) की शुरुआत हो गई है. नए वित्तीय वर्ष के में कई पुराने नियम बदल गए हैं, जिसका आम आदमी की जेब पर सीधा असर पड़ने की संभावना है. आज से पैन-आधार लिंक, सेविंग्स अकाउंट बैलेंस, बैंक रूल्स, टैक्‍स, जीएसटी, एफडी समेत तक के नियम बदल गए हैं. यहां हम आपको ऐसे ही कुछ बड़े बदलावों के बारे में बताने जा रहे हैं जो सीधे तौर पर आपको प्रभावित कर सकते हैं.

  • कुछ चीजें सस्ती, कुछ महंगी- बजट 2022 में कई चीजों पर कस्टम ड्यूटी, आयात शुल्क समेत तमाम शुल्क बढ़ाए और घटाए जाने की घोषणा हुई थी। इसके मुताबिक आज से कुछ चीजें महंगी हो सकती हैं और कुछ चीजों के दाम घट सकते हैं। बजट 2022 में चमड़ा, कपड़ा, खेती का सामान, पैकेजिंग के डिब्बे, मोबाइल फोन चार्जर और जेम्स एंड ज्वैलरी, मेंथा ऑयल, फ्रोजन मसल्स, फ्रोजन स्क्विड, हींग, कोको बीन्स, मिथाइल अल्कोहल, एसिटिक एसिड, सेल्युलर मोबाइल फोन के लिए कैमरा लेंस आदि पर शुल्क घटाने का ऐलान किया गया था। वहीं कैपिटल गुड्स, विदेशी छाता, इमिटेशन ज्वैलरी, लाउडस्पीकर, हेडफोन और ईयरफोन, स्मार्ट मीटर, सोलर सेल, सोलर मॉड्यूल, एक्स-रे मशीन, इलेक्ट्रॉनिक खिलौनों के पुर्जे आदि भी महंगे हो सकते हैं।
  • पैन-आधार लिंकिंग- अगर आपने 31 मार्च, 2022 तक अपने पैन को अपने आधार नंबर से लिंक नहीं किया है तो आज से आपका पैन निष्क्रिय हो सकता है। साथ ही पैन को फिर से सक्रिय करने के लिए आपसे जुर्माना भी वसूला जाएगा।
  • बैंक खातों का KYC- अगर आपने 31 मार्च तक बैंक खाते का केवाईसी पूरा नहीं किया तो आज से आपका खाता बंद हो सकता है।
  • पीएम किसान में KYC करें अपडेट- पीएम किसान के लिए 31 मार्च तक योग्य किसानों को ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीकों से अपने KYC को अपडेट करना जरूरी था। अगर आपने ऐसा नहीं किया है तो आपके खाते में पीएम किसानी के पैसे नहीं आ सकते हैं। पीएम किसान वेबसाइट के मुताबिक ‘ईकेवाईसी पीएम किसान पंजीकृत किसानों के लिए अनिवार्य है।
  • PF खाते पर टैक्‍स- वित्त विभाग आज यानी 1 अप्रैल से नए आयकर कानूनों को लागू करने जा रही है। दरअसल, 1 अप्रैल 2022 से मौजूदा पीएफ खाते को दो भागों में बांटा जा सकता है, जिसपर टैक्स भी लगेगा। खबरों के मुताबिक, EPF खाते में 2.5 लाख रुपये तक टैक्‍स फ्री योगदान का कैप लगाया जा रहा है। अगर इससे ऊपर योगदान किया तो ब्‍याज आय पर टैक्‍स लगेगा। वहीं, सरकारी कर्मचारियों के GPF में टैक्‍स फ्री योगदान की सीमा 5 लाख रुपये सालाना है।
  • PPF अकाउंट में मिनिमम बैलेंस मेनटेन करना- यदि आप अपने नाम पर या अपने बच्चों या जीवनसाथी के नाम पर पीपीएफ खाता खोल रखा है, तो आपको हर साल अपने खाते में कम से कम 500 रुपये जमा करने होते हैं। ऐेसे में अगर आपने वित्तीय वर्ष 2021-22 में रुपये नहीं जमा कराए हैं तो आपका खाता को निष्क्रिय हो सकता है।
  • पोस्ट ऑफिस के नियम- आज से पोस्ट ऑफिस की छोटी बचत योजनाओं में निवेश करने वालों के लिए जरूरी बदलाव होने जा रहा है। 1 अप्रैल 2022 से पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम, सीनियर सिटीजन्स सेविंग्स स्कीम और टर्म डिपॉजिट काउंट्स पर ब्याज का पैसा सेविंग खाते में ही मिलेगा। पोस्ट ऑफिस जाकर कैश में ब्याज का पैसा नहीं ले सकते। सेविंग खाते से लिंक कराने पर ब्याज का पैसा इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से ट्रांसफर हो जाएगा।
  • एक्सिस बैंक और PNB के नियमों में बदलाव- आज से एक्सिस बैंक के सैलरी या सेविंग अकाउंट पर नियम बदल गया है। बैंक ने बचत खाते में मिनिमम बैलेंस की सीमा 10 हजार से बढ़ाकर 12 हजार रुपये कर दिया है। हीं 1 अप्रैल में पंजाब नेशनल बैंक PPS को लागू करने जा रहा है। 4 अप्रैल से 10 लाख और उससे अधिक के चेक के लिए वेरिफिकेशन अनिवार्य कर दिया गया है।
  • म्यूचुअल फंड में निवेश के नियम- आज से आप म्यूचुअल फंड में निवेश के लिए भुगतान चेक, बैंक ड्राफ्ट या अन्य किसी भौतिक माध्यम से नहीं कर पाएंगे। 1 अप्रैल, 2022 से म्‍यूचुअल फंड में पैसे लगाने के लिए आपको सिर्फ यूपीआई अथवा नेटबैंकिंग के जरिये ही भुगतान करना होगा।
  • GST का आसान नियम- केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (CBIC) ने माल और सेवा कर (GST) के तहत ई-चालान जारी करने के लिए टर्नओवर सीमा को पहले तय सीमा 50 करोड़ रुपये से घटाकर 20 करोड़ रुपये कर दिया है। यह नियम भी आज से लागू हो गया है।
  • होमबायर्स को झटका- केंद्र सरकार पहली बार घर खरीदने वालों को धारा 80EEA के तहत टैक्स छूट का फायदा देना 1 अप्रैल 2022 से बंद करने जा रही है। बता दें कि 2019-20 के बजट में, केंद्र सरकार ने 45 लाख रुपये तक का घर खरीदने वालों को होम लोन पर अतिरिक्त ₹ 1.50 लाख आयकर लाभ की घोषणा की गई थी। लेकिन इस बार 1 फरवरी 2022 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नए इस सुविधा को आगे नहीं बढ़ाया। ऐसे होमबायर्स को अगले वित्त वर्ष 2022-23 से ज्यादा टैक्स चुकाना पड़ सकता है।
  • सीनियर सिटीजन्स के लिए स्पेशल FD बंद- कोविड -19 महामारी के दौरान सीनियर सिटीजन्स के लिए कई बैंकों ने स्पेशल एफडी योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत सीनियर सिटीजन को एफडी पर ज्यादा फायदा मिल रहा है। हालांकि, अब कुछ बैंक इस योजना को बंद कर सकती है।
  • बढ़ सकती है दवाओं की कीमतें- खबरों के मुताबिक आज से बुखार, इन्फेक्शन, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, त्वचा रोग और एनीमिया के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाएं महंगी हो सकती है।
  • क्रिप्टोकरेंसी पर नया नियम लागू होगा- आज से क्रिप्टोकरेंसी पर लगने वाले टैक्स के नियम में बदलाव होने जा रहा है। बजट में वित्त मंत्री ने कहा था कि सभी वर्चुअल डिजिटल एसेट (VDA) या क्रिप्टो एसेट पर 30 परसेंट टैक्स लगेगा, अगर उसे बेचने पर फायदा होता है। इसके अलावा, जब-जब कोई क्रिप्टो एसेट बेचा जाएगा, तब-तब उसकी बिक्री का 1 परसेंट टीडीएस कटेगा।
  • वाहन होने जा रहे महंगे- कुछ वाहन कंपनियों ने 1 अप्रैल यानी आज से अपने व्हीकल के दामों में बढ़ोतरी का ऐलान किया है। टाटा मोटर्स ने कहा है कि वह अपने वाणिज्यिक वाहनों की कीमतें 1 अप्रैल से 2 से 2.5 फीसदी तक बढ़ाएगी। मर्सिडीज बेंज इंडिया ने भी कहा है कि वह एक अप्रैल से अपने वाहनों की कीमत तीन फीसदी तक बढ़ाएगी। टोयोटा 1 अप्रैल 2022 से अपनी गाड़ियों की कीमतों को 4 फीसदी तक बढ़ा देगी। बीएमडब्ल्यू कीमतों में 3.5 फीसदी की बढ़ोतरी करेगी।