UGC Two Degree Programme : दो फुल टाइम डिग्री कोर्स को लेकर यूजीसी ने जारी की Guidelines

Share It

PATNA : विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानी UGC ने सभी विश्वविद्यालयों के कुलपति और संस्थानों-कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को पत्र लिखा है. इस पत्र में दो डिग्री (UGC Two Degree Programme) को समानांतर रूप से प्राप्त करने से संबंधित गाइडलाइन का जिक्र किया गया है. इसका मतलब है कि छात्र अब एक ही यूनिवर्सिटी से या अलग-अलग संस्थानों से दो फुल-टाइम डिग्री कोर्स में एक साथ पढ़ाई कर सकेंगे.

UGC ने कहा है कि नई शिक्षा नीति, 2020 के अनुसार शिक्षा को अधिक अनुभवात्मक, समग्र, एकीकृत, पूछताछ-संचालित, खोज-उन्मुख, शिक्षार्थी-केंद्रित, चर्चा-आधारित, सरल और आनंददायक बनाने की कोशिश करने की बात कही गई है. इसके अनुसार अब विभिन्न विषयों को रचनात्मक संयोजन और कल्पनाशील बनाने के लिए व्यवस्था की गई है. अब छात्रों के लिए पुरानी बाधाओं को हटा कर नई संभावनाएं पैदा करने पर काम किया जा रहा है.

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (UGC) के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा “नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) में की गयी घोषणा के अनुसार और छात्रों को अलग-अलग स्किल प्राप्त करने देने के लिए यूजीसी नए गाइडलाइन ला रहा है. इसमें, अभ्यर्थी को एक साथ फिजिकल मोड में दो डिग्री कोर्स करने की अनुमति दी जाएगी. इसके तहत, एक ही यूनिवर्सिटी से या अलग-अलग यूनिवर्सिटी से कोर्स किया जा सकता है.”

सभी यूनिवर्सिटियों, कॉलेजों और संस्थानों से निवेदन किया है कि छात्रों की सुविधा के लिए इन गाइडलाइन को लागू करें. दो डिग्री को एक साथ पूरी करने संबंधी गाइडलाइन वेबसाइट www.ugcac.in पर जारी कर दिया है. इसके अनुसार अब विभिन्न विषयों को रचनात्मक संयोजन और कल्पनाशील बनाने के लिए व्यवस्था की गयी है.

अब छात्रों के लिए पुरानी बाधाओं को हटा कर नयी संभावनाएं पैदा करने पर काम किया जा रहा है. उच्च शिक्षा की बढ़ती मांग और सीमित सीटों की संख्या को देखते हुए कई उच्च शिक्षण संस्थानों ने ओपन और डिस्टेंस लर्निंग पाठ्यक्रमों को जारी कर रखा है. कई पाठ्यक्रम ऐसे हैं जिन्हें छात्र अपने घरों पर रह के सुविधा अनुसार भी पूरा कर सकते हैं.