Bihar पुलिस के 37 जवान सस्पेंड, ADG ने किया निलंबित, देखिये लिस्ट

Share It

MUZAFFARPUR : बिहार (Bihar) से इस वक़्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है. काम में लापरवाही बरतने और ड्यूटी से गायब रहने वाले 37 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है. एडीजी के निर्देश के बाद एसएसपी ने यह कार्रवाई की है. एक साथ 37 पुलिसकर्मियों के सस्पेंशन के बाद से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है.

दरअसल, अपराध नियंत्रण और गश्ती व्यवस्था को लेकर एटीएस के एडीजी रविंद्रन शंकरण की औचक जांच में मुजफ्फरपुर जिले की पुलिस की चौकसी की पूरी तरह से पोल खुल गई. मुख्यालय पटना से निकलने के बाद एडीजी ने वैशाली और मुजफ्फरपुर के विभिन्न थाना क्षेत्रों में औचक जांच की. एडीजी के आने की जानकारी मिलने के बाद रेंज आइजी पंकज सिन्हा, एसएसपी जयंत कांत, डीएसपी और एसडीपीओ ऑन रोड रहे.

इस दौरान विभिन्न इलाकों में पुलिस की गश्ती व्यवस्था का जांच की गई. थाने में तैनात संत्री, ओडी में तैनात पदाधिकारियों और गश्ती में मुस्तैद पुलिसकर्मियों की जांच की. इस दौरान डयूटी से गायब मिलने वाले 37 पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया. यह कार्रवाई एडीजी के निर्देश के बाद एसएसपी के स्तर से की गई.

बता दें कि पुलिस की गश्ती व्यवस्था और थाने में तैनात पुलिसकर्मियों की डयूटी के प्रति कितनी सजगता रहती है, इसका जायजा लेने के लिए ही मुख्यालय के निर्देश पर एटीएस के एडीजी पटना से निकले थे. वैशाली के विभिन्न थानों की जांच करते हुए उनका काफिला मुजफ्फरपुर में पहुंचा. यहां जिले के विभिन्न इलाकों में पहुंचकर गश्ती व्यवस्था का जायजा लिया.

एडीजी एटीएस ने वरीय पुलिस अधिकारियों से विधान परिषद और बोचहां विधानसभा के उपचुनाव को लेकर की गई व्यवस्था की समीक्षा भी की. इस दौरान संगठित अपराध के बारे में भी अपडेट लिया. बताया जा रहा कि सभी जिलों में पुलिस गश्ती और ड्यूटी का जायजा लेने के लिए डीजीपी से लेकर एडीजी और आइजी तक निकले थे. इसी के तहत एडीजी एटीएस मुजफ्फरपुर आए थे.

निलंबन की जद में आए पुलिसकर्मियों में गायघाट थाने से चार, कटरा से पांच, पानापुर ओपी मीनापुर से दो, बेनीबाद ओपी से एक, मुशहरी से दो, मीनापुर से, ब्रहमपुरा से तीन, काजीमोहम्मदपुर से तीन, कांटी से सात, मोतीपुर से चार, कथैया थाने के एक और तुर्की ओपी के तीन पुलिसकर्मी शामिल हैं. एडीजी के निकलने की जानकारी मिलने के बाद जिले के पुलिस अधिकारियों में भी अफरातफरी मची रही. आनन-फानन में अधिकारी रोड पर आ गए.