Bihar : 300 नए इंजीनियरों की हुई बहाली, विभाग के मंत्री ने कहा- योजनाओं को मिलेगी नई गति

Share It

PATNA : बिहार (Bihar) सरकार में जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा (Sanjay Kumar Jha) ने कहा है कि विभाग को एक साथ करीब तीन सौ नये इंजीनियर मिलने से राज्य में तटबंधों की सुरक्षा और सिंचाई सुविधाओं के विस्तार की योजनाओं को नई गति मिलेगी. यह बिहार का सौभाग्य है कि राज्य सरकार का नेतृत्व एक इंजीनियर मुख्यमंत्री के हाथों में है.

जल संसाधन मंत्री ने शुक्रवार को अधिवेशन सहायक अभियंताओं के ओरिएंटेशन प्रोग्राम को संबोधित करते हुए कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार ने विभिन्न क्षेत्रों में विकास की निरंतर नयी ऊंचाइयों को छुआ है. इस दौरान विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने विभाग की बारीकियों से नये अभियंताओं का परिचय कराया. साथ ही प्रेजेंटेशन के माध्यम से कामयाब इंजीनियर बनने के गुर बताये.

नवनियुक्त सहायक अभियंताओं को प्रेरित करते हुए जल संसाधन मंत्री ने आगाह किया कि विभाग की महत्वपूर्ण योजनाएं मुख्य रूप से प्रदेश के दूर-दराज के इलाकों में चलती हैं. युवा अभियंताओं को अपना सर्वोत्तम योगदान देने के लिए सहर्ष तत्पर भवन में आयोजित विभाग में नवनियुक्त रहना चाहिए,

नये अभियंताओं को चेंज मेकर कह कर संबोधित करते हुए सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि आप एक ऐसे विभाग से जुड़े हैं, जिसके ऊपर बिहार में बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदा के प्रभाव को कम करने और हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाने का महत्वपूर्ण दायित्व है. आपको इस दायित्व को स्वीकार करते हुए प्रदेश के विकास में भागीदार बनना है.

ओरिएंटेशन प्रोग्राम में अभियंता प्रमुख, मुख्यालय रवींद्र कुमार शंकर, अभियंता प्रमुख बाढ़ नियंत्रण एवं जल निस्सरण शैलेंद्र अभियंता प्रमुख सिंचाई सृजन ईश्वर चंद्र ठाकुर, मुख्य अभियंता, योजना और मॉनीटरिंग नंद कुमार झा, मुख्य अभियंता, केंद्रीय रूपांकन, शोध एवं गुण नियंत्रण राकेश कुमार आदि उपस्थित थे.